CTC Full Form In Hindi: CTC Kya Hai | CTC Salary क्या है – सीटीसी से जुड़ी जानकारी हिंदी में

CTC Full Form Cost To Company होता है। CTC Full Form In Hindi कॉस्ट टू कंपनी (CTC) एक एम्प्लॉय के टोटल सेलरी पैकेज के लिए एक शब्द है, जिसका उपयोग भारत और दक्षिण अफ्रीका जैसे देशों में किया जाता है। यह एक कंपनी (आर्गेनाइजेशन) द्वारा एक वर्ष के दौरान एक एम्प्लॉय पर खर्च की गई कुल राशि को दर्शाता है। CTC का उद्देश्य कंपनी द्वारा किसी कर्मचारी को रखने में होने वाले पूर्ण खर्च का पता लगाना होता है। इसमें कर्मचारी के वेतन के अलावा कंपनी द्वारा प्रदान किए जाने वाले अन्य लाभ शामिल होते हैं जैसे कि स्वास्थ्य बीमा, जीवन बीमा, सेवानिवृत्ति लाभ, कार्य परिणाम आधारित प्रोत्साहन आदि।

CTC शब्द का भारतीय कॉर्पोरेट जगत में व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है, और यह employers और employees दोनों के लिए महत्वपूर्ण है।

CTC इतना महत्वपूर्ण शब्द क्यों है इसका कारण यह है कि यह दोनों पक्षों को यह निर्धारित करने में मदद करता है कि कर्मचारी कंपनी के लिए कितना खर्च करेगा और कुल लागत जो कंपनी कर्मचारी के लिए खर्च करेगी।

सीटीसी को समझना यह सुनिश्चित करने के लिए जरूरी है कि दोनों पक्ष एक ही पेज पर हैं और कर्मचारी की सेलेरी और लाभों के संबंध में कोई गलतफहमी या गलत सूचना नहीं है।

इसका कैलकुलेशन सर्विस पीरियड के दौरान कर्मचारी को मिलने वाले सभी अतिरिक्त लाभों की लागत में सैलरी में जोड़कर की जाती है। अगर किसी कर्मचारी की सैलरी 50,000 है और कंपनी उनके स्वास्थ्य बीमा के लिए अतिरिक्त 5,000 का भुगतान करती है, तो CTC 55,000 है।

एम्प्लॉय सीधे CTC Amount प्राप्त नहीं कर सकते हैं।

सैलरी में CTC क्या होता है? What Is CTC In Hindi (ctc full form in hindi)

सेलरी के संदर्भ में, CTC का अर्थ “कॉस्ट टू कंपनी” है। यह कुल राशि का प्रतिनिधित्व करता है जो एक employer एक कर्मचारी पर एक वर्ष में खर्च करता है।

सीटीसी में मूल वेतन, मकान किराया भत्ता, विशेष भत्ते, मेडिकल लाभ और अन्य बोनस या अनुलाभ जैसे विभिन्न घटक शामिल हैं।

बोलचाल की भाषा में सीटीसी वह लागत है जो एक नियोक्ता अपने एम्प्लॉय को काम पर रखने और बनाए रखने के लिए देता है।

CTC की फॉर्मूला:

CTC = Gross Salary + Benefits

यदि किसी कर्मचारी की सैलरी ₹40,000 है और कंपनी उनके स्वास्थ्य बीमा के लिए अतिरिक्त ₹5,000 का भुगतान करती है, तो CTC ₹45,000 है।

कर्मचारियों को सीटीसी की राशि सीधे कैश के रूप में प्राप्त नहीं हो सकती है।

उदाहरण के लिए:

चलिए CTC का एक उदाहरण देकर समझाते है जैसे की:

राम एक कम्पनी में काम करता है, कम्पनी अपने एंप्लोई राम को हर महीने 50 हजार रुपए की सैलरी देती है, यानी की एक साल में राम को कंपनी 6 लाख रुपए की सैलरी देती है। इसके अलावा कंपनी राम को दूसरे खर्च भी देती है जैसे ही रहने के लिए साल भर का 12 हजार रूपए का घर का भाड़ा, ट्रांसपोर्ट के लिए हर साल 12 हजार रूपए का खर्च और मोबाइल इंटरनेट के लिए हर साल 12 हजार रूपए देती है। तो कुल मिलाकर कम्पनी ने जितने रुपए राम को दिए वह राम की CTC यानी कॉस्ट टू कंपनी कुछ इस प्रकार से होगी:

600000 + 12000 + 12000 + 12000 = 6,36,000 (छह लाख छत्तीस हजार रूपए) राम की सालाना CTC हुई।

CTC का मतलब क्या होता है? CTC Ka Matlab Kya Hota Hai?

जैसा कि आपको उपर बताया की CTC का Full Form है कॉस्ट टु कंपनी (Cost To Company), यानी इसका मतलब है की, आपको नौकरी में रखने पर कंपनी को जो भी खर्च करना पड़ता है वो CTC यानी कॉस्ट टू कंपनी कहती है।

CTC किसी कर्मचारी को मिलने वाला total salary package होता है, जिसमें प्रत्यक्ष (direct) और अप्रत्यक्ष (indirect), किसी भी तरीके से मिलने वाले लाभ शामिल होते हैं। जिसमे CTC या फिर कॉस्ट टू कंपनी (Cost to Company) एक एम्प्लॉय का सालाना कुल सैलरी पैकेज होता है।

सीटीसी में बेसिक सैलरी, अलाउंस, पर्क्विज़िट शामिल होते हैं। सीटीसी कभी भी किसी कर्मचारी की टेक-होम सैलरी नहीं होती है, यानि कि सीटीसी में शामिल पूरी राशि आपको सैलरी के रूप में नहीं मिलती है।

क्या CTC का अर्थ In hand salary होता है?

सीटीसी आपकी टेक-होम सैलरी नहीं है। जैसा कि बताया गया है, सीटीसी में मकान का किराया भत्ता, महंगाई भत्ता, अन्य मौद्रिक और गैर-मौद्रिक भत्ते जैसे कई घटक शामिल हैं। वार्षिक मूल्यांकन और बढ़ोतरी आमतौर पर आपके सीटीसी के आधार पर प्रदान की जाती हैं।

यदि मेरी सेलरी 25000 है तो मेरा सीटीसी क्या है?

यदि आप भारत में रहकर ₹25,000 प्रति वर्ष कमाते हैं, तो आप पर ₹3,000 का टैक्स लगाया जाएगा। इसका मतलब है कि आपका net pay ₹ 22,000 प्रति वर्ष या ₹ 1,833 प्रति माह होगा। आपकी average tax दर 12.0% है और आपकी marginal tax दर 12.0% है।

Leave a Comment